Become an Affiliate Click Here To Register

Alpha 21

Cough Remedy(10 ml + 10 gm)
Price: 200.00
+ Free Delivery
(up to purchasing minimum order of ₹ 500/-)
  • 100% Pure ayurveda

Alpha 21: Ayurvedic Medicine for Cough

Cough is caused due to many reasons like viral cold infection, acid reflux, asthma, viral flu, blocked airflow, smoking etc. If cough is not treated on time, it could lead to adverse effects on human health and could injure the throat and respiratory organs. Alpha 21 is an effective Ayurvedic medicine for cough and sore throat.

Features of Alpha 21:

  1. Mulethi: It has expectorant and bronchodilator properties that can treat bronchitis and cough. It is used in Ayurvedic medicine for wet cough.

  2. Neem: It has anti-inflammatory, antibacterial and antioxidant effects that can treat cough.

  3. Carom flowers: It is said to have anti-disease properties, meaning it has anti-bacterial and anti-fungal and anti-inflammatory properties. It is rich in antioxidants, vitamins and minerals. It lowers cholesterol and blood pressure. It is also effective in digestion of complex foods. It provides relief from cough and clears the respiratory airways from congestion.

  4. Amla or Indian Gooseberry: It has properties that can help you recover from any infection or disease because it is full of Vitamin C. It also has anti-bacterial and anti-inflammatory properties along with high amounts of polyphenols, alkaloids, and flavonoids that help in building antibiotics in the body naturally.

  5. Bhringraj: It is a herb that provides nutrition to the body and maintain balance.

  6. Parijat: It has anti-inflammatory properties and can fight infection in the body.

  7. Peppermint: It has menthol that soothes cough irritants and reduces pain in the throat. It is used as one of the best ayurvedic medicine for dry cough.

  8. Black Pepper: It has properties to unclog the nose and is used as one of the best Ayurvedic medicine for allergic cough.

  9. Clove: It has properties that help kill bacteria and regulate blood sugar.

  10. Bilpatra: It contains chemicals called tannins, flavonoids, and coumarins that help your body cells fight off free radicals that could damage your cells.

Benefits of Alpha 21:

  1. Alpha 21 is a unique Ayurvedic product to get relief from cough.

  2. It is an Ayurvedic medicine for cough and sore throat

  3. It gives relief as soon as it is used, especially it is an affective medicine for dry cough in Ayurveda.

  4. As it is an Ayurvedic medicine, there are no side effects.

  5. It is an Ayurvedic medicine for allergic cough

How to use?

  1. Mix 3 drops of Alpha 21 and ¼ tsp. salt in a glass of lukewarm water. Stir well.

  2. Once every 2 hours, take a sip, gargle and swallow the liquid.

  3. Dosage can be increased if you have persistent cough.

  4. To help clear up your infection completely, keep taking this medicine for 10 days, even if your condition has improved. Do not miss any doses.

  5. Alpha-21 should be taken 3-4 times a day, depending upon the severity of the cough.

 

अल्फा-21 (Alpha-21) आयुर्वेदिक खांसी की दवा

वायरल कोल्ड इंफेक्शन, एसिड रिफ्लक्स, अस्थमा, वायरल फ्लू, अवरुद्ध वायुप्रवाह, धूम्रपान आदि जैसे कई कारणों से खांसी होती है। यदि खांसी का समय पर इलाज नहीं किया जाता है, तो यह मानव स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकता है और गले और श्वसन को घायल कर सकता है। अल्फा 21(Alpha 21) गले में खराश और खांसी की आयुर्वेदिक दवा है।

अल्फा 21 की विशेषताएं:

  1. मुलेठी(Mulethi): इसमें कफ निस्सारक(Expectorant) और ब्रोंकोडाइलेटर(Bronchodilator) गुण होते हैं जो ब्रोंकाइटिस और खांसी का इलाज कर सकते हैं। गीली खांसी के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सा में इसका उपयोग किया जाता है

  2. नीम(Neem): इसमें सूजनरोधी, जीवाणुरोधी और एंटीऑक्सिडेंट प्रभाव होते हैं जो खांसी का इलाज कर सकते हैं।

  3. कैरम के फूल(Carom flowers): इसे रोग रोधी गुण कहा जाता है, इसका अर्थ है कि इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। यह एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन और खनिजों में समृद्ध है। यह कोलेस्ट्रॉल और रक्तचाप को कम करता है। यह जटिल खाद्य पदार्थों के पाचन में भी प्रभावी है। यह खांसी से राहत प्रदान करता है और सांस की वायु को जमाव से साफ करता है।

  4. आंवला(Amla): इसमें ऐसे गुण होते हैं जो आपको किसी भी संक्रमण या बीमारी से उबरने में मदद कर सकते हैं क्योंकि यह विटामिन सी से भरपूर होता है। इसमें अधिक मात्रा में पॉलीफेनोल्स, अल्कलॉइड्स और फ्लेवोनोइड्स के साथ-साथ एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं। जो प्राकृतिक रूप से शरीर में एंटीबायोटिक्स के निर्माण में मदद करता है।

  5. भृंगराज(Bhringraj): यह एक जड़ी बूटी है जो शरीर को पोषण प्रदान करती है और संतुलन बनाए रखती है।

  6. पारिजात (Parijat): इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं और यह शरीर में संक्रमण से लड़ सकता है।

  7. पुदीना(Peppermint): इसमें मेन्थॉल होता है जो कफ को खत्म करता है और गले में दर्द को कम करता है। यह सूखी खांसी के लिए सबसे अच्छी आयुर्वेदिक दवाओं में से एक के रूप में प्रयोग किया जाता है।

  8. कालीमिर्च(Black Pepper): इसमें बंद नाक को खोलने के गुण होते हैं और यह एलर्जी की खांसी के लिए सबसे अच्छी आयुर्वेदिक दवा में से एक है।

  9. लौंग(Clove): इसमें ऐसे गुण होते हैं जो बैक्टीरिया को मारने और रक्त शर्करा को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

  10. बेलपत्र(Belpatra): इसमें टैनिन, फ्लेवोनोइड्स और कैमारिन नामक रसायन होते हैं जो आपके शरीर की कोशिकाओं को मुक्त कणों से लड़ने में मदद करते हैं जो आपकी कोशिकाओं को नुकसान पहुंचा सकते हैं।

अल्फा 21 के लाभ:

  1. खांसी से राहत पाने के लिए खांसी का आयुर्वेदिक इलाज अल्फा 21 एक अनूठा आयुर्वेदिक उत्पाद है।

  2. यह खांसी और गले की खराश के लिए एक आयुर्वेदिक दवा है

  3. इसका उपयोग करते ही राहत मिलती है, विशेष रूप से यह आयुर्वेद में सूखी खांसी के लिए एक औषधि है।

  4. 4 खांसी और कफ का आयुर्वेदिक इलाज है, इसके कोई दुष्प्रभाव नहीं हैं।

  5. यह एलर्जी की खांसी की आयुर्वेदिक दवा है

कैसे इस्तेमाल करे?

  1. एक गिलास गुनगुने पानी में नमक और अल्फा 21 की 3 बूंदें मिलाएं, अच्छी तरह से हिलाएं।

  2. हर 2 घंटे में एक बार घूंट लें, गार्गल करें और तरल निगलें।

  3. लगातार खांसी होने पर खुराक बढ़ाई जा सकती है।

  4. अपने संक्रमण को पूरी तरह से साफ करने में मदद करने के लिए, इस दवा को 10 दिनों तक लेते रहें, भले ही आपकी स्थिति में सुधार हो। एक भी खुराक ना भूलें।

  5. खांसी की गंभीरता के आधार पर अल्फा 21 को दिन में 3-4 बार लेना चाहिए।

Top Reviews


Reviews Not Found
gbs company